Forever

Advertisements

है न?

जब तुम्हारे साथ नही होती
तो कई बार ये सवाल करती
मोहब्बत ज़्यादा है किसकी?
जवाब दो, तुम्हारी या मेरी?

तुम्हारी मोहब्बत एक सैलाब
मेरी मोहब्बत एक ठहराव
हर सैलाब को कभी न कभी
ठहर ही जाना होता है न?

मेरी मोहब्बत खाली कागज़ सी
तुम्हारी मोहब्बत सुर्ख सियाही
हर खाली कागज़ को एक दिन
भर ही जाना होता है न?

तुम्हारी मोहब्बत है अकीदत
मेरी मोहब्बत जैसे इबादत
हर मुकम्मल मोहब्बत को लेकिन
जुनून बन ही जाना होता है न।

Words-Whore

Some mornings come loaded with thoughts that I don’t want to think otherwise. Like this one. I am just out of my bed and it hit me that perhaps writers are worse than whores. For whores sell their bodies, writers sell their souls. Whores sell their bodies and yet their consumer doesn’t own them forever. People buy parts of our soul, not only do they touch and feel it, but also own it forever, showcase it on their shelves. And on top of it all, the more we sell, the better we are thought to be as writer.

बयान

जान से भी ज़्यादा जिसे चाहो
वही कमबख्त आपकी जान ले जाता है

ख़त खाली ही छोड़ दिया मैंने
कौन अब नज़रों का पैगाम ले जाता है

मोहब्बत न सही, दर्द ही सही
रिश्ता खुद ही अपना नाम ले जाता है

सोच लिया बस अब कुछ भी न कहूँगी
वो मेरी खामोशी का भी बयान ले जाता है

फ़लसफ़ा

तुम्हें अकेला कैसे छोड़ू
शायद कभी न जान पाऊँ
तुम्हारा अकेलापन भी मुझे
अपना हिस्सा ही लगता है।

ज़िद न करो दूर जाने की
जुदा तुम भी न रह पाओगे
तुम्हारा हर दर्द अब मुझे
अपना किस्सा ही लगता है।

मोहब्बत के ये इम्तिहान
जाने कितने अभी बाकी हैं
पर साथ तुम्हारा ज़िन्दगी का
सारा फ़लसफ़ा ही लगता है।

मोहब्बत को ढलते देखा है

ग़लत थे लोग जो कहते थे
मोहब्बत कभी नहीं बदलती
हमने हालातों के साथ साथ
मोहब्बत को ढलते देखा है।

तुझ को इल्ज़ाम दें जाएं
या खुद को बदनाम करें
हमने अपने इस सीने में
इक दर्द उबलते देखा है।

कहो कब तक सोचते रहे
यूँ होता तो क्या होता
हर साँस के आने जाने पे
खुद ही को मरते देखा है

Rain Drop

I wish I was a rain drop
How lovely it must be
To travel inside a cloud’s heart
To live feeling complete
Full of essence that defines
And when time arrives
Without hassles being apart
No drama, no hankering around
A goodbye in a second
No looking back. No repentance
I wish I was a rain drop
To fall and be gone at once.

R.K.